Adi Shakti Mantra PDF Download in Hindi

Adi Shakti Mantra को आदि पराशक्ति मंत्र भी कहा जाता है ! ये Adi Shakti Mantra महान देवी का आह्वान करता है ! शक्ति दिव्य स्त्री रचनात्मक शक्ति, मौलिक पवित्र ब्रह्मांडीय ऊर्जा की अवधारणा या व्यक्तित्व है और पूरी सृष्टि के माध्यम से चलने वाली गतिशील और शक्तिशाली ताकतों का प्रतिनिधित्व करती है !

आज के इस अर्टिकल में आपको शिव पंचाक्षर के पढने का सबसे आसान तरीका बताऊंगा और साथ ही इससे होने बाले लाभ को पूरी जानकारी देने वाला हूँ तथा साथ में आप सभी को मैं Adi Shakti Mantra Pdf भी देने वाला हूँ जिसे आप डाउनलोड करके पढ़ सकते है और उसका लाभ ले सकते है !

Adi Shakti Mantra

what is Adi Shakti Mantra ?

देवी आदि पराशक्ति को वास्तव में परम आत्मा माना जाता है – बिना रूप के सर्वोच्च आत्मा ! सारा ब्रह्मांड उसकी रचना है ! देवी ही एक मात्र विजय है और स्वयं विजय की अभिव्यक्ति है ! इसके अलावा, वह महान देवी हैं, इसलिए, अन्य सभी देवी-देवताओं का स्रोत हैं ! वह सर्वोच्च है और शक्तिवाद में “पूर्ण सत्य” के रूप में देखी जाती है !

शक्ति हिंदू देवी-देवताओं के कई चेहरों में प्रकट होती है जिनसे आप सबसे अधिक परिचित हैं जैसे माँ दुर्गा, देवी पार्वती, देवी लक्ष्मी या देवी काली !

Benefits of Adi Shakti Mantra

संस्कृत मंत्र आध्यात्मिक ऊर्जा को बढ़ाने के लिए कंपन ध्वनियों की पवित्र शक्ति का उपयोग करते हैं ! कुंडलिनी मंत्रों का उच्चारण (जोर से या मानसिक रूप से) एक अभ्यास है जो आत्मज्ञान के साधक को बहुत लाभ पहुंचाता है !

मंत्र के निरंतर अभ्यास से एक सकारात्मक ऊर्जा आती है जो किसी के दिमाग में प्रवाहित होती है, जिससे शुद्ध विचार उत्पन्न होते हैं ! ये महान सकारात्मक विचार, शुद्ध विचार, दिव्य विचार, मन को शुद्ध करते हैं !

Process Adi Shakti Mantra

सच्चे मन से इस मंत्र का जप करने से आत्मा ऊपर उठ जाती है, जिससे साधक अपने भीतर गहरे गोता लगा सकता है ! यह अनंत दिव्य ऊर्जा और शक्ति को आकर्षित करने का एक शक्तिशाली मंत्र है ! मंत्र का जाप करने से आपको अपनी ऊर्जा के रास्ते साफ करने में भी मदद मिलती है ताकि आप कामयाब हो सकें !

इसके अलावा, आप दैनिक जीवन में पवित्र अर्थ को सक्रिय करने के लिए इस कुंडलिनी मंत्र का प्रतिदिन 11 या 108 बार जाप कर सकते हैं ! इसके अलावा, मंत्र आमतौर पर कुंडलिनी शक्ति योग कक्षाओं के साथ-साथ कुंडलिनी जन्मपूर्व योग कक्षाओं में भी प्रयोग किया जाता है !

Yogi Bhajan

“महाशक्ति में विलीन हो जाओ ! यह आपके दुर्भाग्य को दूर करने के लिए काफी है ! यह तुम में से एक स्त्री को तराशेगा ! नारी को अपनी शक्ति की जरूरत है, कोई और नहीं करेगा !”

“जब एक महिला कुंडलिनी भक्ति मंत्र का पाठ करती है, तो भगवान रास्ता साफ कर देते हैं ! यह कोई धर्म नहीं है, यह एक सच्चाई है ! नारी कष्ट सहने के लिए पैदा नहीं हुई है और नारी को अपनी शक्ति की आवश्यकता है !”

Adi Shakti lyrics

“आदि शक्ति, आदि शक्ति, आदि शक्ति, नमो नमो
सरब शक्ति, सरब शक्ति, सरब शक्ति, नमो नमो
प्रीतम भगवती, प्रीतम भगवती, प्रीतम भगवती, नमो नमो
कुंडलिनी माता शक्ति, माता शक्ति, नमो नमो !

मंत्र अर्थ और अनुवाद अंग्रेजी में:
“सारी सृष्टि की पहली शक्ति, मैं आपको नमन करता हूँ”
ईश्वरीय शक्ति, हर जगह, मैं आपको नमन करता हूं
रचनात्मक शक्ति, मौलिक शक्ति, मैं आपको नमन करता हूं
उठकर, देवी माँ, मैं आपको नमन करता हूँ !”

ओरोम ओम् मंत्र ऊर्जा आध्यात्मिक मंत्र जप
“मैं आदि शक्ति को नमन करता हूं !
मैं सर्वव्यापी शक्ति और ऊर्जा को नमन करता हूं !
मैं उसे नमन करता हूं, जिसके द्वारा भगवान बनाता है !
मैं कुंडलिनी की रचनात्मक शक्ति, दिव्य मातृ शक्ति को नमन करता हूं !”

Adi Shakti Meditation Process

स्वामी विवेकानंद जैसे कई आध्यात्मिक शिक्षक मानसिक अशुद्धियों को रोकने के लिए ध्यान को सर्वोत्तम विधि के रूप में पसंद करते हैं !

जैसा कि उन्होंने कहा, पवित्र ध्यान सभी मानसिक और भावनात्मक अशुद्धियों को जलाने में मदद करता है और दावा करता है कि अपनी ऊर्जा को जानना शक्ति की पूजा करने का एक अच्छा तरीका है – देवी माँ ! ओम् ऊर्जा आध्यात्मिक ओम ध्यान
जब हम इस उपचार मंत्र के साथ ध्यान करते हैं, तो हमारा इरादा शक्तिशाली विशाल दिव्य ऊर्जा के साथ जुड़ने और विलय करने और हम सभी के उस अनंत स्रोत के साथ विलय करने का होता है !

रीढ़ की हड्डी को सीधा रखते हुए क्रॉस लेग्ड बैठें, अधिमानतः आसान मुद्रा में और हाथों को ज्ञान मुद्रा में रखें ! थोड़ा खुला और नाक की नोक पर ध्यान केंद्रित करें ! जब तक आप महसूस करें तब तक धीरे-धीरे मंत्र का जप करें !

Download Adi Shakti Mantra PDF

डिस्क्लेमर :- Hindi gyanकिसी भी प्रकार के पायरेसी को बढ़ावा नही देता है, यह पीडीऍफ़ सिर्फ शिक्षा के उद्देश्य से दिया गया है! पायरेसी करना गैरकानूनी है! अत आप किसी भी किताब को खरीद कर ही पढ़े ! इस लेख को अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करे !