Ganapati Stotra Benefits, Pdf Download With Lyrics in Hindi

कोई भी शुभ करने से पहले श्री गणेश को सर्वप्रथम पूजा किया जाता है ! लेकिन उस शुभ कार्य को और भी अच्छे तरीके से संपन्न करने लिए आप Ganapati Stotra का पाठ कर सकते हैं ! Ganapati Stotra का पाठ करने से आपका बुधि और विवेक विकास करेगा !

आज के इस अर्टिकल में आपको Ganapati Stotra के पढने का सबसे आसान तरीका बताऊंगा और साथ ही इससे होने बाले लाभ को पूरी जानकारी देने वाला हूँ तथा साथ में आप सभी को मैं Ganapati Stotra Pdf भी देने वाला हूँ जिसे आप डाउनलोड करके पढ़ सकते है और उसका लाभ ले सकते है !

Ganapati Stotra

What is Ganapati Stotra ?

हिन्दू धर्म में सभी देवी देवताओ में सबसे महत्वपूर्ण स्थान गणेश जी है ! क्योकि हर पूजा या शुभ कार्य होने से पहले श्री गणेश का पूजा किया जाता है ! गणेश जी बुधि का देवता मन जाता है ! यहाँ तक की उनकी सवारी मूषक को भी सबसे बुद्धिमान पशु मन जाता है !

हमलोग किसी काम को सफल होने के लिए गणेश जी म्पुजा करते है , लेकिन इस पूजा में क्या क्या चीज का उपयोग करते हैं इसका हमें जानकारी नहीं होता है ! अगर इस पूजा में गणेश स्रोत्र का पाठ किया जाय तो कोई भी पूजा और ही फल दायक सवित हो सकता है !

गणपति स्रोत्र बहुत ही शक्तिशाली स्तोत्र है , इससे हम अपने बुध्ही और विवेक दोनों को विकास कर सकते हैं ! यह स्रोत्र का नियमित पाठ करने से बड़े से बड़े संकट दूर हो जाता है !

Ganapati Stotra in Hindi

प्रणम्यं शिरसा देव गौरीपुत्रं विनायकम।
भक्तावासं: स्मरैनित्यंमायु:कामार्थसिद्धये !!१!!
प्रथमं वक्रतुंडंच एकदंतं द्वितीयकम।
तृतीयं कृष्णं पिङा्क्षं गजवक्त्रं चतुर्थकम !!२!!
लम्बोदरं पंचमं च षष्ठं विकटमेव च।
सप्तमं विघ्नराजेन्द्रं धूम्रवर्ण तथाष्टकम् !!३!!
नवमं भालचन्द्रं च दशमं तु विनायकम।
एकादशं गणपतिं द्वादशं तु गजाननम !!४!!
द्वादशैतानि नामानि त्रिसंध्य य: पठेन्नर:।
न च विघ्नभयं तस्य सर्वासिद्धिकरं प्रभो !!५!!
विद्यार्थी लभते विद्यां धनार्थी लभते धनम्।
पुत्रार्थी लभते पुत्रान् मोक्षार्थी लभते गतिम् ।।६।।
जपेद्वगणपतिस्तोत्रं षड्भिर्मासै: फलं लभेत्।
संवत्सरेण सिद्धिं च लभते नात्र संशय: !!७!!
अष्टभ्यो ब्राह्मणेभ्यश्च लिखित्वां य: समर्पयेत।
तस्य विद्या भवेत्सर्वा गणेशस्य प्रसादत: !!८!!

Ganapati Stotra Benefits

Ganapati Stotra का बहुत सारा फायदा है इसे हर एक व्यक्ति को करना चाहिए तो आइये जानते हैं इसका क्या क्या फायदा होता है !

  • यह आपके बुधि और विवेक को बढाता है !
  • यह आपके मन दरिद्रता का नाश करती है !
  • ये आपको ज्ञान बढ़ने मदद करता है !
  • इस स्रोत्र को करने से आपका हर काम सफल होगा !
  • घर में सुख और समृधी आएगी !
  • व्यापार में बढ़ावा मिलेगा !

Ganapati Stotra कैसे करे

अगर आप कोई सुभ काम का शुभारम्भ करने बाले हैं या आपके जीवन में कोई कष्ट हो तो आप Ganapati Stotra का पाठ कर सकते हैं ! आप इस पथ को शुक्ल पक्ष के पहले बुधबार को कर सकते हैं , अगर पहले बुधवार को नहीं कर पाए तो किसी भी बुधवार को शुरुआत कर सकते हैं !

बुधवार के सुबह जल्दी उठकर गणेश जी का पूजा कर लें , उन्हें दूर्वा जरुर चढ़ाये इअसा उनको बहुत पसंद है ! गणेश जी मूर्ति के सामने प्राथना करके आप गणेश स्त्रोत्र का पथ शुरू कर दे ! यह पाठ ज्यादा से ज्यादा ५ मिनट तक चलता है !

ऐसा 40 दिन तक करें ! गणेश स्त्रोत्र का पाठ संपन होने के बाद आपका काम शुभ हो जायेगा , और जीवन का हर कष्ट दूर हो जायेगा !

Download Ganapati Stotra

डिस्क्लेमर :- Hindi gyanकिसी भी प्रकार के पायरेसी को बढ़ावा नही देता है, यह पीडीऍफ़ सिर्फ शिक्षा के उद्देश्य से दिया गया है! पायरेसी करना गैरकानूनी है! अत आप किसी भी किताब को खरीद कर ही पढ़े ! इस लेख को अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करे !