[PDF] Garud Puran Pdf Download in Hindi | Benefits, Uses

आज मैं आप सभी को Garud Puran Pdf देने वाला हूँ, जिसे आप हमारे इस वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते है ! यह Garud Puran in Hindi PDF File आपको हिन्दी में मिलेगा !

गरुण पुराण भगवान् विष्णु की भक्ति और उनके ज्ञान पर आधारित पुराण है, गरुण पुराण हिन्दू धर्म एक प्रसिद्ध ग्रंथो में से एक है! यह 18 पुराणओ में से एक माना जाता है!

इसमें मनुष्य के जीवन के बारे में कई गुढ़ बाते बतायी गयी है, जिसका ज्ञान आपको इसे पढने के उपरांत मिलेगा ! तो आइये जानते है गरुण पुराण के बारे में और साथ में आपको मैं गरुण पुराण पीडीऍफ़ भी देने वाला हूँ!

What is Garud Puran Pdf in Hindi (गरुण पुराण क्या है)

Garud Puran Pdf Download in Hindi
Garud Puran Pdf Download in Hindi

पुराण साहित्य में Garud Puran का एक प्रमुख स्थान है, सनातन धर्म यह मान्यता है किसी व्यक्ति के मरने के पश्चात् Garud Puran का पाठ करवाने से यसे वैकुण्ठ लोक की प्राप्ति होती है ! इस गरुण पुराण में क्यच २८९ अध्याय है! इसमें कुछ 18 हजार श्लोक है!

इस Garud Puran में मृत्यु क पश्चात् की घटना का विस्तार से वर्णन किया गया है ! जैसे की प्रेत लोक , यम लोक , नरक और 84 लाख योनियों के नरक स्वाभाविक जीवन के बारे में वर्णन किया गया है ! इस गरुण पुराण में कई सुर्यावंशी और चंद्रवंशी राजाओं का भी वर्णन मिलता है !

What does Garuda Purana says?

साधारण लोग इस गरुण पुराण को पढने से डरते है, क्योकि इस गरुण पुराण को किसी के मृत्यु के पश्चात ही पढवाया जाता है! वास्तव में इस गरुण पुराण में किसी के मृत्यु के पश्चात् होने वाले घटनाओं के बारे में वर्णन किया गया है ! जैसे की यम लोक, प्रेत लोक, तथा 84 लाख योनियों के नरक स्वरूपी जीवन आदि के बारे में विस्तार से गरुण पुराण में बताया गया है !

इस पुराण में कई सूर्यवंशी और चंद्रावंशी राजाओं के बारे में वर्णन मिलता है! साधारण लोग इस ग्रन्थ को पढने से हिचकते है, क्योकि इस ग्रन्थ को किसी सगे सम्बन्धी के मृत्यु के पश्चात ही पढवाया जाता है! वास्तव में इस गरुण पुराण में मृत्यु के पश्चात् पुर्नजन्म होने के बाद गर्भ भ्रूण की वैज्ञानिक अवस्था को सांकेतिक रूप से बखान किया गया है ! जिसे वैतरणी नदी की संज्ञा दी गयी है !

प्रेत योनी में भोग रहे व्यक्ति के परिजन या उसके सगे सम्बन्धी गरुण पुराण का पाठ करवाते है तो उसे स्वर्गलोग की प्राप्ति होती है ! और वह प्रेत योनी से मुक्त हो जाता है! गरुण पुराण में नरक से बचने के उपाय बताये गये है !

गरुण पुराण के अंतगर्त किसी भी व्यक्ति के मृत्यु के पश्चात् उसका श्राद्ध कर्म, और उसका पिंड दान आवश्यक बताया गया है ताकि उसके आत्मा को शांति प्राप्त हो ! यह उपाए पिता के लिए पुत्र को बताया गया है ! पुत्र ही पिता का पिंड दान और श्राद्ध कर्म करके उन्हें नर्क से बचाता है !

What is the Story of Garuda Puran Pdf in Hindi

इस गरुण पुराण में जो सबसे अहम चीज की चर्चा है उसके बारे में भी हम सभी लोग जान लेते है, इसमें ऐसा क्या है, जिससे साधारण लोग इसे पढने में बहुत हिचकते है!

गरुण पुराण में मुख्य रूप से इस बात पर चर्चा की गयी है की किसी भी जीव के ,मृत्यु के बाद क्या होता है ! उसके बारे में आपको विस्तर रूप से बाताया गया है ! और दुनिया में सबसे रहस्यमय सवाल है की आखिर किसी भी जीव के मरने के बाद उसका क्या होता है , यानी उसकी आत्मा को क्या होता है !

मृत्यु के पश्चात आत्मा का क्या होता है इसके ऊपर लोगों के अपने अपने तर्क होते हैं और वह उसके हिसाब से सवाल का जवाब देते हैं लेकिन गरुण पुराण में किसी भी जीव के मृत्यु के पश्चात उसके आत्मा का क्या होता है उसके बारे में विस्तार से वर्णन किया गया है और इसे पढ़ने के बाद आपको भी लगेगा कि हां कुछ ऐसा ही होता होगा!

गरुण पुराण में व्यक्ति अपने जीवन में नैतिक अनैतिक जितने भी कर्म करता है, उसके अनुसार उसको फल प्राप्त होता है यह आपने भागवत गीता में भी पढ़ा होगा ठीक उसी प्रकार गरुड़ पुराण में भी व्यक्ति को उसके कर्म अनुसार ही फल प्राप्त होता है!

गरुड़ पुराण में इसे तीन भागों में बांटा गया है

  • पहले भाग में मनुष्य अपने जीवन काल में ही सुख और दुख का अनुभव प्राप्त कर लेता है
  • दूसरे भाग में मनुष्य अपने कर्मानुसार अपने मृत्यु के पश्चात 84 लाख योनियों में से किसी एक योनि में जन्म लेता है
  • तीसरी अवस्था में मनुष्य अपने नैतिक अनैतिक और कर्मानुसार ही अपने मृत्यु के पश्चात वह स्वर्ग अथवा नरक लोक को प्राप्त होता है

अगर हम साधारण तरीके से समझे तो गरुड़ पुराण में जीव के मृत्यु के पश्चात उसके साथ क्या-क्या होता है उसके बारे में बताया गया है!

गरुड़ पुराण में व्यक्ति के किन-किन कर्मों की क्या क्या सजा होती है उसके बारे में विस्तार पूर्वक बताया गया है वास्तव में मनुष्य को गरुड़ पुराण पढ़ने अथवा सुनने से सच्चे वैराग्य अथवा ज्ञान की प्राप्ति होती है!

इससे मनुष्य अपने जीवन में बुरे कर्मों को करने से बचता है और उसे जीवन के सच्चे महत्व का पता चलता है अब आपको पता चल गया होगा कि गरुड़ पुराण मैं किन बातों के बारे में बताया गया है!

इसमें नरक, स्वर्ग, पाप और पुन्य के अलावा भी बहुत सारी बाते बतायी गयी है, गरुण पुराण में आपको ज्ञान , विज्ञानं, नीति और नियम और धर्म की बाते बतायी गयी है !

इस गरुण पुराण में जहां पर मनुष्य के मृत्यु का रहस्य है तो वही दूसरी ओर इसमें जीवन का भी रहस्य छिपा हुआ है ! इससे हमें जीवन के बहुत सारे रहस्य के बारे में पता चलता है और कई प्रकार के शिक्षा भी मिलती है !

Is it OK to read Garuda Purana in Hindi?

आपने बहुत से लोगो से सूना होगा की गरुण पुराण को जीवित मनुष्य को नही पढ़ना चाहिए ! लोगो के मन में यह दर बैठा दिया गया है की जो भी मनुष्य इस गरुण पुराण को पढता है या रखता है तो उसके जीवन में हर समय अशुभ घंतानाये घटती रहती है !

इसी भ्रम के वजह से लोग इस गरुण पुराण को पढने से कतराते है, लेकिन आज हम आप सभी को एक ऐसा रहस्य बताने वाले है ! जिसे आप जानने के बाद आपका यह भ्रम दूर हो जाएगा की किसी भी जीवित मनुष्य को यह गरुण पुराण पढना चाहिए या नही पढ़ना चाहिए !

गरुण पुराण में भगवान् विष्णू और उनके वाहन गरुण के बातो का वर्णन किया गया है ! किन्तु अक्सर देखने को मिलता है की जब भी किसी परिवार में किसी की मृत्यु हो जाती है तो या कोई मृत्यु शैय्या पर होता है तो गरुण पुराण का पाठ कराया जाता है! और यही देख कर लोगो के मन में डर बन जाता है! और लोग इसे पढने और पास में रखने पर भी हिचकते है!

What is the Importance of garuda puran?

आप जब इस किताब को खोलेंगे तो आपको शुरू में ही इस किताब के पाठ करने के महत्व के बारे में बताया गया है ! जिसके अनुसार जब भी कोई मनुष्य इस किताब को पढता है तो उसे विद्या, यश, सौन्दर्य, लक्ष्मी, विजय और आरोग्य के बारे में जानकारी प्राप्त होती है !

जो भी मनुष्य गरुड़ पुराण का नियमित पाठ करता है, उसे सच के ज्ञान की प्राप्ति होती है और उसे स्वर्ग की प्राप्ति होती है! जो भी मनुष्य एकाग्र चित होकर इसका पाठ करता है, सुनाता है, सुनता है, या लिखता है या फिर इसे अपने पास रखता है तो उसे वो सब कुछ मिलता है जो वह चाहता है !मनुष्य इस पवित्र गरुण पुराण का पाठ करता है उसका कल्याण होता है !

Download Garud Puran Pdf in Hindi

गरुड़ पुराण को हिंदी में पढ़ने के लिए आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके इसका पीडीएफ फाइल डाउनलोड कर सकते हैं और इसे पढ़ सकते हैं!

अगर आप गरुड़ पुराण को खरीदना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आप उसे खरीद भी सकते हैं!

Garud Puran PDF Download Download Now
Garud Puran PDF DownloadDownload Now

Disclaimer – हिंदी ज्ञान यह पीडीएफ फाइल सिर्फ शिक्षा के उद्देश्य दिया है हिंदी ज्ञान किसी भी प्रकार के पायरेसी को बढ़ावा नहीं देता है पायरेसी करना गैर कानूनी है और इसे आप भी बढ़ावा ना दें!


General FAQ About Garuda Puran in Hindi

गरुड़ पुराण कब पढ़ना चाहिए?

मृत्‍यु के पश्‍चात 12 से 13 दिनों तक घर गरुड़ पुराण का पाठ किया जाता है। इससे मृतक की आत्‍मा को शांति प्राप्‍त होती है।

गरुड़ पुराण पढ़ने से लोग क्यों डरते हैं?

साधारण लोग इस गरुण पुराण को पढने से डरते है, क्योकि इस गरुण पुराण को किसी के मृत्यु के पश्चात ही पढवाया जाता है! वास्तव में इस गरुण पुराण में किसी के मृत्यु के पश्चात् होने वाले घटनाओं के बारे में वर्णन किया गया है ! जैसे की यम लोक, प्रेत लोक, तथा 84 लाख योनियों के नरक स्वरूपी जीवन आदि के बारे में विस्तार से गरुण पुराण में बताया गया है

गरुड़ पुराण घर में रखने से क्या होता है?

गरुण पुराण के अनुसार यह भी कहा जाता है कि जो मनुष्य श्रद्धा पूर्वक ध्यान लगाकर इस पुराण का पाठ करता है और जो व्यक्ति गरुण पुराण को सम्मान और शुद्धता के साथ अपने घर में रखता है वह धर्मार्थी हो जाता है अर्थात धर्म को जानने वाला बनता है।

गरुड़ पुराण का पाठ करने से क्या होता है?

गरुड़ पुराण का पाठ व्यक्ति को हमेशा प्रेरणा देता है कि चाहें कुछ भी हो जाए जीवन में हमेशा अच्छे कर्म करना चाहिए। इस पाठ में धर्म, वैराग्य, दान, तप, नीति, ज्ञान, रहस्य, आत्मा, स्वर्ग-नरक और अन्य लोकों आदि का भी वर्णन मिलता है।

Tags:- garud puran pdf, garud puran in hindi pdf, गरुड़ पुराण सम्पूर्ण कथा pdf, गरुड़ पुराण सम्पूर्ण कथा pdf in hindi, गरुड़ पुराण सम्पूर्ण कथा pdf, garun puran in hindi pdf, गरुड़ पुराण सम्पूर्ण कथा pdf download, गरुड़ पुराण सम्पूर्ण कथा, garun puran pdf, garuda puranam pdf, garun puran in hindi pdf, garud puran hindi pdf, garun puran hindi pdf, garud puran pdf download, गरुड़ पुराण सम्पूर्ण कथा पीडीऍफ़, गरुण पुराण संपूर्ण, गरुड़ पुराण, garun puran hindi me pdf, गरुड़ पुराण सम्पूर्ण कथा हिंदी में, garud puran pdf marathi, garud puran pdf in hindi, garud puran in hindi pdf download, गरुड़ पुराण सम्पूर्ण कथा in hindi