Harivansh Puran PDF Download in Hindi

Harivansh Puran के प्रमुख नायक श्री कृष्ण है , इस पुराण को महाभारत को कमी को कम करने वाला पुराण कहा गया है ! श्री कृष्ण को भगबान विष्णु का अवतार का विवेचना इस ग्रन्थ में किया गया है ! Harivansh Puran में श्री कृष्ण को भगवन विष्णु ही मन गया है , हरिवंश नमक इस पुराण सर्व सुलव सरल और सुबोध भाषा में पकाशित किया गया है ! जिससे की यह फायदा हर लोग को होता है , और खासकर उसे जो ज्यादा पढ़े लिखे न हो ! महिलायों को अक्षर हिंदी कमजोर होता है लेकिन इस ग्रन्थ को महिलाये भी आसानी से पढ़ सकती है !

Harivansh Puran

इस ग्रन्थ में हरिवंश पर्व और विष्णु पर्व दोनों को बहुत अच्छे से विवेचना किया गया है ! इसके अतिरिक्त इस हरिवश नामक पुराण में ,इसके सुनने के महत्त्व एवं हरिवंश कथा करने का और इसे करने के फायदे का अच्छी तरीके से बताया गया है !

इस ग्रन्थ के अंत में वेशम्पायन जी कहते हैं ,हे राजन पुत्र की इछा रखने वाले स्त्री को हरिवश पुराण का श्रावण करना चाहिए ! तथा अन्य मनोकामना के प्राप्त के लिए हरिवंश पुराण फायदेमंद होता है ! हरिवंश पुराण के अंतरगत हरिवंश पर्व में दी गयी कथा उनकी भाषा एवं सैली अध्यण एवं पाठ की दृष्टि से अत्यंत प्रभावी है ! इस ग्रन्थ के अनुवादक साहित्य रत्न डॉ रामकृष्ण उपाध्याय जी लिखे हैं !

Harivansh Puran क्या है


इस हरिवंश पुराण नामक ग्रन्थ के ३रे खंड भविष्य पर्व में दी गयी कथाये जैसे जय वुजय की संतति , कलयुग वर्णन सनातन धर्म , कर्म फल ,समुन्द्र मन्थन , रजा पोंद्रक का नारायण वर्कंडे संवाद कमल का वृतांत इत्यादि कथाये अत्यंत ज्ञान पूर्ण विवेक प्रदान करने वाली तथा संसार से मुक्ति का प्रवाल मार्ग हैं ! इस प्रकार हरिवंश पर्व ,विश्नुपर्व और भविष्य पर्व तीनो खंडो के साथ सम्पूर्ण रूप से यह श्री हरिवंश पुराण उत्तर भारत के प्रसिद्ध प्रकाशन संस्था रंधीर प्रकाशन से पकाशित किया गया है !

Harivansh Puran के फायदे

निःसंतान व्यक्ति को संतान प्राप्त करने वाला और निर्धन व्यक्ति को सम्पूर्ण धन प्राप्त करने वाला एवं समस्त पापो का नास करने वाला यह पुराण है !इसकी कथा करने एवं पाठ करने से कलयुग में भी कोई व्यक्ति महापापो से मुक्त हो जाता है ! हरिवंश पुराण को श्रधा से सुनने एवं करने से मनुष्य शंशारिक माया से मुक्त हो जाता है ! जिस प्रकार प्रकाश के ज्वलन से वर्फ पिघलने लगता है उसी प्रकार हरिवंश पुराण को सुनने से दैहिक पाप से मुक्ति मिल जाता है !

Harivansh Puran कैसे करें

कोई भी वयक्ति को निः संतान है उसे कोई संतान नहीं नहीं हो रहा है तो वो हरिवंश पुराण करके अपने इछा को पूरा कर सकता है ! हरिवंश पुराण कृष्ण के बारे में है कृष्ण लिलायो का उलेख किया गया है , इस पथ को करने से किसी भी दम्पति को सन्तान की प्राप्त होती है ! आप हरिवंश पुराण पढने की शुरुआत किसी भी दिन से कर सकते हैं ! यह पुराण आपको 51 दिन के पश्चात् ख़त्म कर देना है ! औउर इस पुराण को दिन के किसी भी समय में पढ़ सकते हैं !

Download Harivansh Puran

डिस्क्लेमर :- Hindi Gyan किसी भी प्रकार के पायरेसी को बढ़ावा नही देता है, यह पीडीऍफ़ सिर्फ शिक्षा के उद्देश्य से दिया गया है! पायरेसी करना गैरकानूनी है! अत आप किसी भी किताब को खरीद कर ही पढ़े ! इस लेख को अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करे !

Download Harivansh PuranBuy on Amazon