Rudri Path Pdf Download in Hindi

Rudri Path

Rudri Path PDF को आप हमारे इस वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते है! Rudri Path क्या है, या फिर इसे हम रूद्र पूजा भी कहते है ये क्या होता है, और इसे करने से क्या लाभ मिलता है, इसके बारे में आज सभी लोग जानने वाले है!

रूद्र यानी शिव जी, उनकी यह पूजा है, पर इस रूद्र पूजा में शिव के साथ और पांच देवता को पूजते है ! इसमें हम सूर्य भगवान्, गणेश जी, दुर्गा माँ, विष्णु भगवान् और रूद्र देव की हम पूजा करते है !

हम इस रूद्र पूजा यानी Rudri Path में इन सभी देवताओं का आवाहन करते है, और उनका अभिषेक करते है!

रुद्राभिषेक कैसे करे

सावन के महीने में भगवान् शिव का रुद्राभिषेक किया जाता है, हर कोई अपने तरीके से भगवान् शिव को खुश करने में लगा रहता है! भगवान शिव के पूजा में रुद्राभिषेक का अपना एक अलग महत्व होता है!

अगर भगवान् शिव के रुद्राभिषेक अगर विधि विधान से किया जाए तो हरेक की मनोकामना पूरी हो जाती है ! यहाँ तक की मृत्यु को भी टाला जा सकता है ! तो आज हम जानेगे की रुद्राभिषेक करने का नियम क्या है ! रुद्राभिषेक कब करना चाहिए और किन परिस्थिति में किन चीजो से रुद्राभिषेक करना चाहिए !

रुद्राभिषेक का अर्थ क्या होता है

रूद्र शिव का ही एक नाम है, शिव का जो एक प्रचंड स्वरूप है वो रूद्र है! भगवान् शिव के कृपा से हर तरह के समस्या का नाश होता है! शिव जी की कृपा प्राप्त करने के लिए शिवलिंग पर विशेष पूजा विधि से कोई चीज अर्पित की जाती है तो इस प्रक्रिया को हम रुद्राभिषेक कहते है !

इसमें जो मन्त्र पढ़े जाते है वो होते है शुक्ल यजुर्वेद के रुद्राअष्टाध्यायी के मन्त्र के साथ जब अलग अलग चीजे शिवलिंग पर अर्पित की जाती है ! तो इस प्रक्रिया को हम रुद्राभिषेक कहते है ! वैसे तो आप भगवन शिव की कृपा प्राप्त करने के लिए आप कभी भी रुद्राभिषेक कर सकते है, लेकिन जब जीवन में संकट बहुत ज्यादा हो तो उस दशा में रुद्राभिषेक करना ज्यादा फायदेमंद होता है !

शिव कर रुद्राभिषेक या रुद्री पाठ (Rudri Path)से क्या फायदे होते है !

शिव एक रुद्राभिषेक या रुद्री पाठ करने से हमें अनेको फायदे होते है, जिन्हें जानकार आप सभी चौक जायेंगे !

  • जल से रुद्राभिषेक करने से वर्षा होती है !
  • असाध्य रोगों को शांत करने के लिए कुशोदक से रुद्राभिषेक करे!
  • भवन वाहन के लिए दही से रुद्राभिषेक करे!
  • लक्ष्मी प्राप्ति के लिए गन्ने के रस से रुद्राभिषेक करे!
  • धन वृद्धि के लिए शहद एवं घी से !
  • तीर्थ के जल से अभिषेक करने पर मोक्ष कर प्राप्ति होती है!
  • इत्र मिले जल से अभिषेक करने से बीमारी नष्ट हो जाती है !
  • पुत्र प्राप्ति के दुग्ध से और यदि संतान उन्पन्न होकर मृत पैदा हो तो गोदुग्ध से रुद्राभिषेक करे !
  • रुद्राभिषेक से योग्य तथा विद्वान संतान की प्रप्ति होती है!
  • ज्वर की शांति हेतु शीतल जल व् गंगाजल से रुद्राभिषेक करे!
  • सहस्त्रनाम मंत्रो का उच्चारण करते हुए, घृत की धारा से रुद्राभिषेक करने पर वंश का विस्तार होता है !
  • शक्कर मिले दूध से अभिषेक करने पर जद्बुध्धि वाला भी विद्वान हो जाता है !
  • सरसों के तेल से अभिषेक करने वाला शत्रु पर विजय पाता है !
  • शहद के द्वारा अभिषेक करने पर यक्ष्मा दूर हो जाता है!
  • पातको को नष्ट करने के की कामना होने पर भी शहद से रुद्राभिषेक करे !
  • गोदुग्ध से तथा शुद्ध घी द्वारा अभिषेक करने से आरोग्यता प्राप्त होती है !

Download Rudri Path Book

इसे को आप यहाँ से फ्री में PDF File को Free में डाउनलोड कर सकते है! यह पीडीऍफ़ फाइल सिर्फ शिक्षा के उद्देश्य से दिया जा रहा है! हिन्दी ज्ञान किसी भी प्रकार के पायरेसी को बढ़ावा नही देता है!

Rudra Path BookDownload
Rudra Path BookDownload
rudri path pdf
rudri path pdf free download
rudri path in sanskrit pdf
rudri path lyrics in sanskrit pdf
rudri path pdf in sanskrit
rudri path in hindi pdf
rudri path full pdf
shiv rudri path pdf
rudri path book pdf
rudri path lyrics pdf
complete rudri path pdf