Shivoham Lyrics Pdf Download in HIndi

Shivoham Lyrics श्री शिव जी की स्तुति है जो जग के रहियता, पालक और संहारक हैं ! शिव उपासना से पित्र दोष का निवारण हो जाता है ! श्री शिव को भोलेनाथ भी कहा जाता है क्यों की वो अपने भक्तों की प्राथना को सुनते हैं और उसे आशीर्वाद तुरंत देते हैं ! Shivoham Lyrics पढने से कभी दुखो का सामना करना नहीं पड़ता है !

Shivoham Lyrics

Shivoham Lyrics

शिवोहम शिवोहम शिव स्वरूपहम,
नित्योहम शुद्धोहम बुद्धोहम मुकतोहम,
शिवोहम शिवोहम शिवा स्वरूपहम,

अद्वैतंम आनंद रूपम अरूपम,
ब्रह्मोहम ब्रह्मोहम ब्रह्म स्वरूपहम,
चिदोहम चिदोहम सतचिदानंदोहम,

Shivoham Lyrics in Hindi

  • मै न मन हूँ , न बुद्धि हूँ , न अहंकार हूँ , न ही चित हूँ ,
  • मै न तो कान हूँ , न जीभ हूँ , न नाशिक हूँ , न ही नेत्र हूँ
  • मै न तो आकाश हूँ , न धरती हूँ , न अग्नि , न ही वायु हूँ !
  • मै तो शुद्ध चेतना हूँ , अनंत शिव हूँ !
  • मै न प्राण हूँ , न ही पञ्च वायु हूँ !
  • मै न सात धातु हूँ , और न पञ्च कोष हूँ ,
  • मै न वाणी हूँ , न हाथ हूँ , न पैर , न ही उत्सर्जन की इन्द्रिय हूँ !
  • मै तो शुद्ध चेतना हूँ ,अनादी अनन्त शिव हूँ !
  • न मुझे घृणा है , न लगाव है , न मुझे लोभ है और न मोह !
  • न मुझे अभिमान है और न किसी से ईष्या ,
  • मै धर्म , धन , एवं मोक्ष से परे हूँ ,
  • मै तो शुद्ध चेतना हूँ ,अनादी अनन्त शिव हूँ !
  • मै पुण्य , पाप , शुख , और दुख से विलग हूँ !
  • मै न मन्त्र हूँ , न तीर्थ , न ज्ञान , न ही यज्ञ !
  • न मै भोजन हूँ , न ही भोग का अनुभव और न ही भोक्ता हूँ !
  • मै तो शुद्ध चेतना हूँ ,अनादी अनन्त शिव हूँ !
  • न मुझे मिर्त्यु का डर है , न जाती का भेदभाव ,
  • मेरा न तो कोई पिता है, न माता ,न ही मै कभी जन्मा था !
  • मेरा न कोई भाई है , न मित्र , न गुरु , न शिष्य !
  • मै तो शुद्ध चेतना हूँ ,अनादी अनन्त शिव हूँ !
  • मै निर्विकल्प हूँ , निराकार हूँ , मै चेतन्य के रूप में सब जगह व्याप्त हूँ , सभी इन्द्रिय में हूँ !
  • न मुझे किशी वास्तु में आशक्ति है , न ही मै उससे मुक्त हु !
  • मै तो शुद्ध चेतना हूँ ,अनादी अनन्त शिव हूँ !

Shivoham के फायदे

शिव उपासना से पित्र दोष का निवारण हो जाता है, शिव कृपा की पूर्ण कृपा प्राप्त होती है , शिव हर भक्त के लिए सुखों का भंडार खोल देता है, शास्त्रों द्वारा बताया गया है की शिव पूजा से जुड़ी बातें उजागर करती हैं कि शिव भक्ति में मात्र शिव नाम स्मरण ही सारे सांसारिक सुखों का भण्डार खोल देते है, स्वास्थ्य अच्छा रहता है, कोर्ट कचहरी क्षेत्रों में विजय प्राप्त होता है, सरकारी नौकरी या सरकारी कामों में फायदा होता है ,अटके हुए सभी कार्य सफल हो जाते हैं !

Download Shivoham Lyrics

डिस्क्लेमर :- Hindi Gyan किसी भी प्रकार के पायरेसी को बढ़ावा नही देता है, यह पीडीऍफ़ सिर्फ शिक्षा के उद्देश्य से दिया गया है! पायरेसी करना गैरकानूनी है! अत आप किसी भी किताब को खरीद कर ही पढ़े ! इस लेख को अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करे !

Download Shivoham LyricsBuy on Amazon