Thermal Scanner क्या है और कैसे काम करती है?

चीन के वुहान शहर से कोरोना वायरस के बारे में आज एक छोटा बच्चा भी जानता है, और यह कितना खतरनाक है, यह किसी को बताने की जरुरत नही है, आज के समय में कुछ ही महीने में इससे लाखो लोग पीड़ित और हजारो लोगो की मौत हो चुकी है!

इन सभी के बीच में भारत सरकार ने विदेशो से अपने सभी नागरिको को अपने देश वापस बुला रही है, सभी एअरपोर्ट और सरकारी स्थलों पर थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है, और आज हम इसी थर्मल स्क्रीनिंग के बारे में बात करने वाले है, यह क्या है और यह कैसे काम करती है!

कोरोना वायरस क्या है?

दोस्तों सबसे पहले हम कोरोना वायरस के बारे में थोडा सा जान लेते है, उसके बाद हम थर्मल स्क्रीनिग के बारे में बात करेंगे !

  • क्या है कोरोना वायरस? – कोरोना वायरस का संबंध वायरस के ऐसे परिवार से है, जिसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हो सकती है. इस वायरस को पहले कभी नहीं देखा गया है. इस वायरस का संक्रमण दिसंबर में चीन के वुहान में शुरू हुआ था. डब्लूएचओ के मुताबिक, बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ इसके लक्षण हैं. अब तक इस वायरस को फैलने से रोकने वाला कोई टीका नहीं बना है.
  • क्या हैं इस बीमारी के लक्षण? – इसके लक्षण फ्लू से मिलते-जुलते हैं. संक्रमण के फलस्वरूप बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्या उत्पन्न होती हैं. यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है. इसलिए इसे लेकर बहुत सावधानी बरती जा रही है. कुछ मामलों में कोरोना वायरस घातक भी हो सकता है. खास तौर पर अधिक उम्र के लोग और जिन्हें पहले से अस्थमा, डायबिटीज़ और हार्ट की बीमारी है.
  • क्या हैं इससे बचाव के उपाय? – स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कोरोना वायरस से बचने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं. इनके मुताबिक, हाथों को साबुन से धोना चाहिए. अल्‍कोहल आधारित हैंड रब का इस्‍तेमाल भी किया जा सकता है. खांसते और छीकते समय नाक और मुंह रूमाल या टिश्‍यू पेपर से ढककर रखें. जिन व्‍यक्तियों में कोल्‍ड और फ्लू के लक्षण हों उनसे दूरी बनाकर रखें. अंडे और मांस के सेवन से बचें. जंगली जानवरों के संपर्क में आने से बचें.

कोरोना की पहचान के लिए इन लक्षणों पर गौर करें

  • तेज बुखार आनाः अगर किसी व्यक्ति को सुखी खांसी के साथ तेज बुखार है तो उसे एक बार जरूर जांच करानी चाहिए. यदि आपका तापमान 99.0 और 99.5 डिग्री फारेनहाइट है तो उसे बुखार नहीं मानेंगे. अगर तापमान 100 डिग्री फ़ारेनहाइट (37.7 डिग्री सेल्सियस) या इससे ऊपर पहुंचता है तभी यह चिंता का विषय है.
  • कफ और सूखी खांसीः पाया गया है कि कोरोना वायरस कफ होता है मगर संक्रमित व्यक्ति को सुखी खांसी आती है.
  • सांस लेने में समस्याः कोरोना वायरस से संक्रमित होने के 5 दिनों के अंदर व्यक्ति को सांस लेने में समस्या हो सकती है. सांस लेने की समस्या दरअसल फेफड़ो में फैलते कफ के कारण होती है.
  • फ्लू-कोल़्ड जैसे लक्षणः विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार कोरोना वायरस से संक्रमित होने पर कभी-कभी बुखार, खांसी, सांस में दिक्कत के अलावा फ्लू और कोल्ड जैसे लक्षण भी हो सकते हैं.
  • डायरिया और उल्टीः कोरोना से संक्रमित लोगों में डायरिया और उल्टी के भी लक्षण देखे गए है. करीब 30 प्रतिशत लोगों में इस तरह के लक्षण पाये गए हैं.
  • सूंघने और स्वाद की क्षमता में कमीः बहुत से मामलों में पाया गया है कि कोरोना से संक्रमित लोगों को सूंघने और स्वाद की क्षमता में कमी आती है.

Thermal Scanner क्या है ?

यह एक प्रकार का Device होता है, यह आपके शरीर के तापमान का अनुमान लगाता है, यह आपके पुरे शरीर का एक थर्मल इमेज तैयार करता है! यह आपके शरीर के तापमान के अनुसार काम करता है,

थर्मल इमेज

अगर आपके शरीर का तापमान ज्यादा होता है तो यह बीप की आवाज करती है! यह डिवाइस 26 डिग्री सेल्सियस से लेकर 500 डिग्री तक के तापमान को माप सकती है! लेकिन इसमें ध्यान देने वाली बात यह है की यह आपके शरीर के त्वचा के तापमान को मापती है, आपके शरीर के अंदर का तापमान नही मापती है, और इस डिवाइस से निकलने वाली तरगो से आपके शरीर को कोई नुकसान नही होता है!

यह कैसे काम करती है?

Thermal Scanner

अब आप यह सोच रहे होंगे की इससे हमें कैसे पता चलता है की कौन सा व्यक्ति कोरोना से प्रभावित है, या नही है! जब किसी व्यक्ति के अंदर कोरोना यह फिर के किसी प्रकार के विषाणु का प्रभाव होता है तो उसके अंदर का तापमान बहुत ज्यादा बढ़ जाता है!

इससे जब आपके शरीर का इमेज लिया जाता है, तो यह आपके शरीर का इमेज आपके शरीर के तापमान के अनुसार तैयार करता है! जब आपके शरीर का तापमान सामान्य से ज्यादा होता है , तो उसकी जानकारी जांच कर रहे स्वास्थ अधिकारी को पता चल जाता है और उसके बाद आपको जांच के लिए भेज दिया जाता है!

Note :- दोस्तों हम सभी लोग को भगवान से प्रार्थना करते है की पूरी दुनिया जल्द से जल्द इस महामारी से जल्दी ही निजात पा ले, और दोस्तों जब तक आपको बहुत जरुरी ना हो तब तक आप कही पर भी बाहर ना जाए !