What is Cache Memory Full introduction in Hindi

Cache Memory क्या होता है, और इसका क्या काम होता है, आज हम इसी के बारे में बात करने वाले है, इसके बारे में आज पूरी जानकारी विस्तार दे देने वाला हूँ ! बहुत से लोगो को नही होता होता की यह क्या होता है और यह क्यों जरुरी होता है !

आप जब मार्किट से कंप्यूटर खरीदने जाते है तो आपको बताया जाता है की इसमें 2 MB से 5 MB तक Cache Memory है, यहा तक की आपके हार्डडिस्क में भी लिख होता है की इसमें इतना कैश मेमोरी है ! अगर आप SSD खरीदते है तो उसमे आपको Cache Memory ज्यादा मिलता है !

Full Introduction of Cache Memory in Hindi

अगर आप मोबाइल या कंप्यूटर का इस्तेमाल करते है तो आपको उसके अंदर Cache Memory के बारे में सुना होगा! अगर Memory की बात हो रही है तो आपके आपके मन में हार्डडिस्क, मेमोरी कार्ड, SSD और रैम आता होगा! लेकिन यह Cache Memory क्या होती है ! इसके बारे में आपको बिल्कुल भी पता नही होता है !

अगर हम कैश मेमोरी की बात करे तो यह CPU के अंदर होती है, यानी की आपके माइक्रोप्रोसेसर के अंदर! यह बहुत तेजी से काम करती है, अगर देखा जाए यह मेमोरी हार्डडिस्क और रैम के मुकाबले बहुत छोटी होती है लेकिन यह उनसे कई गुना तेज होती है !

Cache Memory

इस मेमोरी वो प्रोग्राम सुरक्षित रहते है, जिनकी जरुरत बार बार पड़ती है CPU में ! इसे CPU की मेमोरी भी कहा जाता है ! CPU जिन प्रोग्राम का इस्तेमाल बार-बार करता है वो कैश मेमोरी उन्हें सुरक्षित रख लेता है यह तब तक काम करता है , जब तक आपका System On रहता है ! बंद होने के बाद इसमें से सारा डाटा डिलेट हो जाती है !इसलिये इसे Cache Memory कहते है !

Cache Memory काम कैसे करती है?

यह आपके मोबाइल और कंप्यूटर दोनों में होती है ! अगर आप अच्छे क्वालिटी की रैम, हार्डडिस्क लेते है तो यह उसके अंदर भी होती है ! यह सभी प्रोसेसर के अंदर पहले से होती है ! यह 2 mb से ज्यादा होती है ! यह कितना होगा आपके बजट और आपके क्वालिटी पर निर्भर करता है !

यह एक टेम्प्रोरी मेमोरी होती है ! यह तब तक काम करती है, जब तक आप कंप्यूटर पर काम करते है, आप बार बार एक ही प्रकार के काम करते है वह डाटा आपके हार्डडिस्क में सेव ना होकर आपके Cache Memory में Save होती है ! जैसे ही आप फिर से उस डाटा के लिए कंप्यूटर को निर्देश देते है वह Cache Memory से आपके सामने आ जाता है !

यह बहुत फ़ास्ट होता है, अगर आप कोई भी डाटा का निर्देश अपने कंप्यूटर को देते है तो वह आपके हार्डडिस्क से लाने में 180 नैनो सेकंड का समय लेता है ! लेकिन Cache Memory सिर्फ 45 नैनो सेकंड के अंदर आपके सामने ला देता है ! इसलिए आपके पास जितना ज्यादा Cache Memory होगा आपका कंप्यूटर उतना फ़ास्ट होगा!

इन्हें भी पढ़े

कैश मेमोरी कितने प्रकार के होते है?

यह मुख्यतः तीन प्रकार के होते है,

  • Level 1 कैश
  • Level 2 कैश
  • Level 3 कैश

इसमें से Level 1 और Level 2 आपके कंप्यूटर के प्रोसेसर में लगी होती है ! जबकि Level 3 कैश मेमोरी आपके कंप्यूटर के MotherBoard में लगी होती है !

Level 3 कैश मेमोरी शेयर्ड कैश मेमोरी होती है! अगर आपका प्रोसेसर Dual Core है तो Level 3 को दोनों प्रोसेसर इस्तेमाल करते है !

तो आज हमने जाना की कैश मेमोरी क्या होती है और इसका इस्तेमाल कहा पर होता है! अगर आप अगली बार से कोई कंप्यूटर खरीदने जाए तो आप इसका खास ध्यान रखे की आपके कंप्यूटर में कैश मेमोरी कितना है ! क्योकि आपके कंप्यूटर की स्पीड इसके ऊपर भी निर्भर करती है !

2 thoughts on “What is Cache Memory Full introduction in Hindi”

Leave a Comment